महिला शरीर के बारे मे जानकारी – Female body parts name in Hindi

महिला शरीर के बारे मे जानकारी – Female body parts name in Hindi


महिला शरीर के बारे मे जानकारी - Female body parts name in Hindi

woman body parts in hindi language जानिए महिलाओं के हर एक अंग के बारे में महिलाओं और पुरुषों का शरीर आकार, आकृति और हार्मोन्स संरचना के आधार पर अलग-अलग होता है। महिलाओं का शरीर उन्हें आनंद दायक सेक्सुअल फीलिंग (sexual feeling), सेक्सुअल इंटरकोर्स (sexual intercourse), ऑर्गेज्म (orgasm) और स्पर्म फर्टीलाइज (sperm fertility) के लिए अंडा पैदा करने की सहूलियत देता है। महिलाओं के रिप्रोडेक्टिव सिस्टम के अंग (प्रजनन अंग) अंदर और बाहर दोनों ओर होते हैं। महिलाओं के शरीर के हर अंग का एक मेडिकल (Medical) नाम होता है। महिलाओं के शरीर के अलग-अलग हिस्सों की कार्यप्रणाली अलग-अलग होती है जिनके बारे में जानने के लिए पुरुषों में अक्सर जिज्ञासा बनी रहती है।
महिलाओं के शरीर के अंगों और उनकी कार्यप्रणाली का विस्तृत ज्ञान महिलाओं को होना भी बेहद जरुरी होता है। इस आर्टिकल में हम आपको विस्तार से महिलाओं के शरीर के विभिन्न अंगों और उनकी कार्यप्रणाली के बारे में बताने जा रहे हैं। आइए जानते हैं कि महिलाओं के शरीर के विभिन्न अंग कौन-कौन से होते हैं, महिलाओं के शरीर रचना विज्ञान, महिलाओं के संवेदनशील अंग और उनकी कार्यप्रणाली के बारे में।
1. महिलाओं के अंग – Female body parts in Hindi
  • महिलाओं के स्तन – Breast of women in Hindi
  • मादा जननांग का हिस्सा है महिलाओं की योनि – Vagina of women in Hindi
  • महिला की योनि का भाग है लैबिया (भग की संरचना) – Labia is a part of female vagina in Hindi
  • योनि का ऊपरी भाग क्लिटोरिस कहलाता है – Clitoris is upper part of female vagina in Hindi
  • योनि का एक भाग कहलाता है यूरेथ्रा – Urethra is a part of vagina in Hindi
  • यूरेथ्रा के ऊपर होती है वेजाइना की ओपनिंग – Part of female vagina Vaginal opening in Hindi
  • कूल्हों के बीच का भाग होता है एनस – Anus is a part between hips in hindi
  • महिला की योनि को ढ़कता है मोंस प्यूबिस – Mons pubis is cover of vagina in Hindi
2. महिलाओं के सेक्सुअल पार्टस का विवरण – What are the parts of the female internal sexual anatomy in Hindi
  • महिलाओं के सेक्सुअल पार्ट है वेजाइना – Vagina is sexual organ of female in hindi
  • वेजाइना को गर्भाश्य से अलग करती है गर्भग्रीवा- Female internal sexual organ Cervix in hindi
  • संकरी नली की भांति होती है फैलोपियन ट्यूब (गर्भनली) – Female internal sexual organ Fallopian tubes in Hindi
  • हार्मोन्स बनाता है अंडाश्य – Female internal sexual organ Ovaries in hindi
  • योनि में लुब्रिकेशन का काम करती है बार्थोलिन ग्लैंड – Female internal sexual organ Bartholin’s glands in Hindi
  • योनि की पतली झिल्ली होती है हाइमन – Female internal organ Hymen in Hindi
  • महिलाओं में सेक्सुअल प्लेजर प्वॉइंट है G-स्पॉट – Female internal sexual organ G-spot in Hindi

महिलाओं के अंग – Female body parts in Hindi

  1. महिलाओं के स्तन – Breast of women in Hindi
  2. मादा जननांग का हिस्सा है महिलाओं की योनि – Vagina of women in Hindi
  3. महिला की योनि का भाग है लैबिया (भग की संरचना) – Labia is a part of female vagina in Hindi
  4. योनि का ऊपरी भाग क्लिटोरिस कहलाता है – Clitoris is upper part of female vagina in Hindi
  5. योनि का एक भाग कहलाता है यूरेथ्रा – Urethra is a part of vagina in Hindi
  6. यूरेथ्रा के ऊपर होती है वेजाइना की ओपनिंग – Part of female vagina Vaginal opening in Hindi
  7. कूल्हों के बीच का भाग होता है एनस – Anus is a part between hips in hindi
  8. महिला की योनि को ढ़कता है मोंस प्यूबिस – Mons pubis is cover of vagina in Hindi
कुछ अंगों में महिला का शरीर पुरुष के शरीर के समान ही होता है जबकि कुछ अंग विल्कुल ही भिन्न होते हैं आइये जानतें है महिला शरीर के अंगों (Female body parts name in hindi) के बारे मे।

महिलाओं के स्तन – Breast of women in Hindi

महिलाओं के स्तन - Breast of women in Hindi
स्तन महिलाओं और पुरुषों दोनों के शरीर में पाए जाने वाले अंग होते हैं। लेकिन स्तन महिलाओं में रिप्रोडक्टिव सिस्टम (reproductive system) का पार्ट होते हैं इसलिए शिशु को दूध पिलाने के लिए महिलाएं स्तनों का उपयोग करती है। टीनएज (teen age) से महिलाओं के स्तनों का आकार धीरे-धीरे बढ़ने लगता है और एक समय पर आकर वे पूरी तरह विकसित हो जाते हैं। तंत्रिकाएं महिलाओं स्तनों में कामुकता प्रदान करती है। महिलाओं के स्तनों के निप्पल्स (niples) सेक्सुअल प्लेजर देने वाले पॉइंट्स (points) माने जाते हैं क्योंकि यहां आकर बहुत सारी संवेदनशील तंत्रिकाएं खत्म होती है। स्तन महिलाओं के शरीर का महत्वपूर्ण हिस्सा होते हैं आजकल महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर की समस्या काफी आम हो चुकी है इसलिए हर महिला को स्तनों के स्वास्थ्य के प्रति जागरुक होना चाहिए। और उनकी जांच करते रहना चाहिए।
(और पढ़े – क्या स्तनों को दबाने से उनका आकार बढ़ जाता है…)

मादा जननांग का हिस्सा है महिलाओं की योनि – Vagina of women in Hindi

महिलाओं के बाहरी सेक्सुअल पार्ट (sexual part) को योनि कहा जाता है। योनि में भी कई सारे हिस्से होते हैं जिसके बारे में हर किसी को पता नहीं होता है। योनि में लैबिया, क्लिटोरिस, मूत्रमार्ग आदि शामिल हैं। योनि महिलाओं के लिए सेक्सुअल प्लेजर का सबसे बड़ा जरिया होता है जिससे वे इंटरकोर्स के माध्यम से सेक्स कर सकती है। योनि के बारे अलग-अलग मुख्य हिस्सों का नाम निम्न है।
  • लैबिया (labia)
  • वेजाइनल ओपनिंग (वेजाइना का द्वार) (vaginal opening)
  • क्लिटोरिस (clitoris)
  • यूरेथ्रा (urethra)
वेजाइना तंत्रिकाओं और श्लेष्मा झिल्ली (mucous membrane) को आपस में जोड़ने का एक ज़रिया होती है। यह गर्भाश्य (Uterus) और गर्भाश्य ग्रीवा (cervix) को शरीर के बाहरी हिस्सों से जोड़ती है। योनि से ही महिलाएं मास्टरबेशन (masturbation), सेक्सुअल इंटरकोर्स (sexual intercourse) और बच्चे को जन्म (child birth) देने जैसी प्रक्रियाएं संपन्न कर सकती है।
(और पढ़े – योनि के बारे में सम्पूर्ण जानकारी…)

महिला की योनि का भाग है लैबिया (भग की संरचना) – Labia is a part of female vagina in Hindi

लैबिया (Labia) शब्द का मतलब लैटिन भाषा में इंटरकोर्स होता है। हर महिला के लैबिया एक सेट में होता है जो कि योनि का एक भाग होता है। ये बाहर की तरफ होते हैं और त्वचा की मोटी परत से मिलकर बने होते हैं। लैबिया की शुरुआत क्लिटोरिस (clitoris) पर होती है और इसके नीचे की ओर आखिर में वेजाइनल (vaginal opening) ओपनिंग होती है। लैबिया छोटी या बड़ी, मुलायम या झुर्रिदार हो सकती है। लैबिया के सेट में दोनों का आकार समान नहीं होता है इनमें एक का आकार बड़ा तो दूसरे का छोटा होता है वहीं इसका रंग भी गुलाबी से लेकर गहरा भूरा हो सकता है। उम्र के साथ-साथ लैबिया का रंग भी बदलता जाता है। कुछ महिलाओं में लैबिया अंदर की तरफ पतला होता है तो कुछ में बाहर की तरफ पतला होता है लेकिन दोनों ही संवेदनशील होते हैं।
(और पढ़े – क्या आप जानते है योनि की गहराई कितनी होती है…)

योनि का ऊपरी भाग क्लिटोरिस कहलाता है – Clitoris is upper part of female vagina in Hindi

योनि का ऊपरी भाग क्लिटोरिस कहलाता है - Clitoris is upper part of female vagina in Hindi
योनि के ऊपरी हिस्से को क्लिटोरिस (Clitoris) कहा जाता है जहां पर लैबिया का ऊपरी हिस्सा यानि की इनर लिप्स (inner lips) आपस में मिलते हैं। महिलाओं की क्लिटोरिस का आकार अलग-अलग होता है। यह मटर के दानें की तरह छोटी और अंगूठे के आकार के समान बड़ी भी हो सकती है। क्लिटोरिस लचीले उत्तकों से मिलकर बनी होती है और जब आप कामुकता के चरम पर होते हैं तो ये फूल (swell) जाते हैं। महिलाओं के शरीर के अन्य किसी हिस्से की बजाय क्लिटोरिस पर सबसे ज्यादा तंत्रिकाएं आकर समाप्त होती है यहीं कारण है कि ओरल सेक्स (oral sex) करने या ब्लो जॉब (blow job) देने पर महिलाओं को ज्यादा कामुकता का एहसास होता है।
(और पढ़े – क्लिटोरिस क्या है और चरम सुख में इसकी क्या भूमिका है…)

योनि का एक भाग कहलाता है यूरेथ्रा – Urethra is a part of vagina in Hindi

यूरेथ्रा योनि का एक भाग होता है। यूरेथ्रा की शुरुआत में एक छोटा सा छिद्र होता है जिससे पेशाब आता है। यह क्लिटोरिस (Clitoris) के ठीक नीचे होता है।
(और पढ़े – योनि से जुड़े रोग और उपचार…)

यूरेथ्रा के ऊपर होती है वेजाइना की ओपनिंग – Part of female vagina Vaginal opening in Hindi

यूरेथ्रा (Urethra) के ठीक नीचे वेजाइना की शुरुआत हो जाती है। इस भाग से महिलाओं का पीरियड ब्लड (period blood) निकलता है और साथ ही शिशु जन्म भी यहीं से होता है। वेजाइना में उंगली, पेनिस, सेक्स टॉय (sex toy) और टैंपून (tampons) जैसी कई चीजें जा सकती है।
(और पढ़े – क्या होती है योनि में फिंगरिंग, इसके फायदे और नुकसान…)

कूल्हों के बीच का भाग होता है एनस – Anus is a part between hips in hindi

कूल्हों के बीच का भाग होता है एनस - Anus is a part between hips in hindi
कूल्हों के बीच में एनस (गूदा) (Anus) होता है। गूदा पर भी बहुत सारी संवेदनशील तंत्रिकाओं (Nervs) का समापन होता है इसलिए कुछ लोग यौन संबंध का आनंद एनल सेक्स (anul sex) से भी लेते हैं।
(और पढ़े – एनल सेक्स (गुदामैथुन) के स्वास्थ्य पर पड़ने वाले बुरे प्रभाव…

महिला की योनि को ढ़कता है मोंस प्यूबिस – Mons pubis is cover of vagina in Hindi

योनि के ऊपर का भाग मोंस प्यूबिस (Mons pubis) कहलाता है इसे आप एक तरह का कवर (cover) मानते हैं जो वेजाइना को ढ़क लेता है। किशोर अवस्था के बाद से (puberty) के बाद यह हिस्सा बालों से ढ़क जाता है। यह प्यूबिक बोन्स (pubic bones) को आराम देता है।
(और पढ़े – योनि को टाइट करने के असरदार घरेलू उपाय और तरीके…)

महिलाओं के सेक्सुअल पार्टस का विवरण – What are the parts of the female internal sexual anatomy in Hindi

  1. महिलाओं के सेक्सुअल पार्ट है वेजाइना – Vagina is sexual organ of female in hindi
  2. वेजाइना को गर्भाश्य से अलग करती है गर्भग्रीवा- Female internal sexual organ Cervix in hindi
  3. संकरी नली की भांति होती है फैलोपियन ट्यूब (गर्भनली) – Female internal sexual organ Fallopian tubes in Hindi
  4. हार्मोन्स बनाता है अंडाश्य – Female internal sexual organ Ovaries in hindi
  5. योनि में लुब्रिकेशन का काम करती है बार्थोलिन ग्लैंड – Female internal sexual organ Bartholin’s glands in Hindi
  6. योनि की पतली झिल्ली होती है हाइमन – Female internal organ Hymen in Hindi
  7. महिलाओं में सेक्सुअल प्लेजर प्वॉइंट है G-स्पॉट – Female internal sexual organ G-spot in Hindi

महिलाओं के सेक्सुअल पार्ट है वेजाइना – Vagina is sexual organ of female in hindi

महिलाओं के सेक्सुअल पार्ट है वेजाइना - Vagina is sexual organ of female in hindi
वेजाइना दरअसल एक ट्यूब होती है जो कि महिलाओं के गर्भाश्य (uterus), गर्भग्रीवा (cervix)और योनि (vulva) को आपस में जोड़ती है। वेजाइना सभी अंगों को एक साथ मिलाकर बनती है और इससे इंटरकोर्स, शिशु को जन्म देने और पीरियड ब्लड और पेशाब करने जैसी प्रक्रियाएं होती है।
(और पढ़े – जानिए यौन संबंध बनाने के बाद वेजाइना (योनि) से क्यों होती है ब्लीडिंग…)

वेजाइना को गर्भाश्य से अलग करती है गर्भग्रीवा- Female internal sexual organ Cervix in hindi

गर्भग्रीवा (cervix) योनि और गर्भाश्य को अलग-अलग करती है। इसका आकार के छेद वाले गोले की तरह होता है जिससे पीरियड ब्लड बाहर निकलता है और स्पर्म अंदर आता है। वेजाइना में उंगली डालने पर आप अपनी गर्भग्रीवा को महसूस कर सकते हैं।
(और पढ़े – गर्भाशय की जानकारी, रोग और उपचार…)

संकरी नली की भांति होती है फैलोपियन ट्यूब (गर्भनली) – Female internal sexual organ Fallopian tubes in Hindi

गर्भनली दो संकरी नलियां होती है जो कि अंडाश्य से गर्भाश्य तक अंडे लेकर जाती है। स्पर्म इसी माध्यम से अंडों को निषेचित (fertilize) करने का काम करते हैं।
(और पढ़े – महिला को गर्भवती होने में कितना समय लगता है…)

हार्मोन्स बनाता है अंडाश्य – Female internal sexual organ Ovaries in hindi

अंडाश्य (Ovaries) में अंडे संरक्षित होते हैं। ये एस्ट्रोजन, टेस्टोस्टेरोन और प्रोजेस्टेरोन समेत सभी हार्मोन्स का उत्पादन करते हैं। ये हार्मोन्स पीरियड्स और गर्भावस्था दोनों को नियंत्रित करते हैं। यौन अवस्था में हर माह अंडाश्य अंडे निकालना शुरु कर देता है और मेनोपॉज (menopause) की अवस्था तक यह प्रक्रिया जारी रहती है।
(और पढ़े – सेक्स हार्मोन क्या होते है महिला और पुरुष में इनका महत्त्व…)

योनि में लुब्रिकेशन का काम करती है बार्थोलिन ग्लैंड – Female internal sexual organ Bartholin’s glands in Hindi

योनि में लुब्रिकेशन का काम करती है बार्थोलिन ग्लैंड - Female internal sexual organ Bartholin’s glands in Hindi
वेजाइना के द्वार के पास ही यह ग्रंथि होती है जो कि लुब्रिकेशन (lubrication) के लिए फ्लूइड (fluid ) पैदा करती है। ये महिलाओं के प्रोस्टेट ग्रंथि भी कहलाती है।
(और पढ़े – योनि में सूखेपन का कारण और दूर करने के घरेलू उपाय…)

योनि की पतली झिल्ली होती है हाइमन – Female internal organ Hymen in Hindi

हाइमन एक तरह की पतली झिल्ली होती है जो कि वेजाइना को चारों और से छूती है। हाइमन (Hymen) का अलग-अलग प्रकार होता है और वेजाइना के आकार और प्रकार के हिसाब से भी इनकी प्रकृति अलग-अलग होती है। कभी-कभी वेजाइना में कुछ डालने से हाइमन फट जाता है और वेजाइना से खून निकलने लगता है लेकिन ऐसा हमेशा हो यह जरुरी नहीं होता है।
(और पढ़े – जानिए महिलाओं की योनि (वजाइना) कितने प्रकार की होती है…)

महिलाओं में सेक्सुअल प्लेजर प्वॉइंट है G-स्पॉट – Female internal sexual organ G-spot in Hindi

वेजाइना के अंदर की तरफ और नाभि के ठीक सामने जी-स्पॉट (G-spot) होता है। वेजाइना के अंदर यह वेजाइना की शुरुआत से कुछ इंच की दूरी पर होता है। जी- स्पॉट (G-spot) को छूने पर अत्यधिक कामुकाता का एहसास होता है और जब आप कामुकता महसूस करते हैं तब यह हिस्सा फूल जाता है। कुछ लोग सेक्स टॉय (Sex toy) या खुद से जी-स्पॉट छूकर सेक्स (sex) का आनंद लेने का प्रयास करते हैं।
Previous
Next Post »