क्या हस्तमैथुन (मास्टरबेशन) करने से पिंपल्स होते हैं – Does masturbation and pimple has any relation in Hindi

क्या हस्तमैथुन (मास्टरबेशन) करने से पिंपल्स होते हैं – Does masturbation and pimple has any relation in Hindi


क्या हस्तमैथुन (मास्टरबेशन) करने से पिंपल्स होते हैं - Does masturbation and pimple has any relation in Hindi

Kya Hastmaithun Karne Se Pimple Hote Hai क्या हस्तमैथुन से मुहांसे होते है? पिंपल्स (pimples) आपको कभी भी और किसी भी उम्र में हो सकते हैं। टीन एज में, अनहेल्दी खाना खाने से, त्वचा का ख्याल ना रखने से, प्रदूषण और धूल व धूप के बुरे असर से और साथ ही हार्मोन्स के बैलेंस ना होने से भी त्वचा पर पिंपल्स हो जाते हैं। त्वचा के ऑयली होने से पिंपल्स (pimples) का खतरा बहुत बढ़ जाता है। त्वचा के रोमछिद्र त्वचा को सीबेशियस नामक (sebaceous gland) ग्रंथि से जोड़ते हैं जो कि ऑयल (oil) पैदा करती है। इससे तेल का ज्यादा उत्पादन होने पर रोमछिद्रों बंद हो जाते हैं जिनमें मृत कोशिकाएं पैदा होकर पिंपल्स बनाती है।
पुरुषों के संदर्भ में तमाम सभी कारणों के अलावा मास्टरबेशन को भी पिंपल होने का एक कारण माना जाता है। क्या मास्टरबेशन (masturbation) करने से पिंपल्स होते हैं? क्या इन दोनों का कई दोनों में वाकई कोई संबंध है? इस आर्टिकल में हम आपको विस्तार से बताने जा रहे हैं कि क्या पिंपल्स और मास्टरबेशन के बीच कोई रिलेशन होता है या नहीं? आइए जानते हैं कि क्या मास्टरबेशन करने से पिंपल्स होता हैं।
  1. क्या होता है मास्टरबेशन – What is masturbation in Hindi
  2. क्यों करते है मास्टरबेशन – Why people do masturbation in Hindi
  3. पिम्पल्स क्यों होते है – What Causes Pimples in Hindi
  4. क्या मास्टरबेशन करने से पिंपल्स होते हैं – Kya Hastmaithun Karne Se Pimple Hote Hai
  5. मास्टरबेशन करने के फायदे और नुकसान – Health benefits and side effects of masturbation in Hindi

क्या होता है मास्टरबेशन (हस्तमैथुन)- What is masturbation in Hindi

मास्टरबेशन आत्म-संतुष्टि के लिए की जाने वाली एक क्रिया है जो व्यक्ति अपने आप को खुशी और सेक्सुअल संतुष्टि (sexual satisfaction) प्रदान करने के लिए करता है। इसमें अपने सेक्स ऑर्गन (sex organ) को अपने हाथ से सेक्सुअल प्लेजर (sexual pleasure) दिया जाता है। मास्टरबेशन की प्रक्रिया कामुकता को बढ़ाने और सेक्स के जैसा ही आनंद प्राप्त करने के लिए की जाती है। मास्टरबेशन करने से टेस्टोस्टेरोन का स्तर बढ़ (Testosterone) जाता है जिससे व्यक्ति को आनंद महसूस होता है। लड़के और लड़कियां दोनों ही हस्तमैथुन करती हैं। इसी कारण लोग हस्तमैथुन को मुहांसों से लेकर नपुंसकता तक का कारण मान लेते है लेकिन ऐसा नहीं है।
(और पढ़े – हस्तमैथुन के फायदे और नुकसान जो आपको जानना है जरूरी…)

क्यों करते है मास्टरबेशन – Why people do masturbation in Hindi

मास्टरबेशन (masturbation) करने का एक मात्र कारण है खुद को सेक्सुअल प्लेजर (sexual pleasure) देना। इससे आप अपने शरीर और अपने सेक्सुअल प्लेजर को अच्छे से समझ पाते हैं। इससे आप सेक्सुअल परफॉर्मेंस को सुधार सकते हैं साथ ही आपका खुद पर भरोसा बढ़ता है। महिलाओं के लिए मास्टबेशन करना वेजाइना (vegina) की सेहत के लिए लाभकारी होता है साथ ही इससे अच्छी नींद भी  आती है। पुरुष अक्सर उत्तेजित होकर आत्म-संतुष्टि के लिए मास्टरबेशन करते हैं और इससे उनका तनाव दूर होता है साथ ही बहुत अच्छा महसूस होता है। मास्टरबेशन के लिए आपको किसी और व्यक्ति की जरुरत नहीं होती ऐसा करने से किसी अन्य व्यक्ति पर खुद को सेक्सुअल प्लेजर (sexual pleasure) देने के लिए निर्भरता खत्म हो जाती है।
(और पढ़े – महिलाएं कैसे करती है हस्तमैथुन जाने सोलो प्ले के लिए टिप्स और ट्रिक्स…)

पिम्पल्स क्यों होते है – What Causes Pimples in Hindi

हमारी त्वचा में करोडों छोटे-छोटे रोमछिद्र होते हैं जिनकी मदद से त्वचा सांस लेती है। इन रोमछिद्रों का सीधा संबंध सीबेशियस (sebaceous gland) ग्रंथि से होता है जो कि त्वचा के लिए नेचुरल तेल (netural oil) का उत्पादन करती है। जब इस तेल की मात्रा बढ़ जाती है तो रोमछिद्रों में तेल और मृत कोशिकाएं साथ ही गंदगी बढ़ जाती है जिससे त्वचा में सूजन आ जाती है और मुंहासें पैदा हो जाते हैं। लेकिन क्या मास्टरबेशन करने से पिंपल्स होते हैं? और क्या हस्तमैथुन का सेक्स जीवन पर कोई नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ता है आइये जानते हैं।
(और पढ़े – मुँहासों को दूर करने के घरेलू उपाय…)

क्या मास्टरबेशन (हस्तमैथुन) करने से पिंपल्स होते हैं – Kya Hastmaithun Karne Se Pimple Hote Hai

क्या मास्टरबेशन (हस्तमैथुन) करने से पिंपल्स होते हैं - Kya Hastmaithun Karne Se Pimple Hote Hai
इसका जवाब है नहीं। मास्टरबेशन और पिंपल्स का आपस में कोई संबंध नहीं होता है। मास्टरबेशन करने से टेस्टोस्टेरोन का स्तर बढ़ जाता है लेकिन इससे सेक्सुअल प्लेजर मिलता है। मास्टरबेशन करने से हार्मोन सिर्फ कुछ देर के लिए ही उत्तेजित होते हैं ना कि काफी ज्यादा समय के लिए। ऐसे में मास्टरबेशन करने से सीबेशियस (sebaceous gland) ग्रंथि का अति उत्तेजित (Overactive) होकर पिंपल्स पैदा कर पाना संभव नही होता है। यहीं कारण है कि मास्टरबेशन और पिंपल्स का कोई सीधा संबंध नहीं पाया गया है इसलिए यह मानना मूर्खता है कि मास्टरबेशन करने से पिंपल्स होते हैं। बल्कि इससे आपको फायदा जरूर होता है अगर इसे जरूरत से जयादा न किया जाये तो आइये जानते है कैसे।
(और पढ़े – महिलाएं सेक्स के दौरान पुरुषों से क्या चाहती है…)

मास्टरबेशन करने के फायदे और नुकसान – Health benefits and side effects of masturbation in Hindi

मास्टरबेशन करने के अपने फायदे और नुकसान होते हैं। मास्टरबेशन करने से नींद अच्छी आती है, तनाव कम होना है, यह सुरक्षित प्रक्रिया होती है और आपको किसी अन्य पार्टनर की जरुरत नहीं होती है। मास्टरबेशन (masturbation) करना दिल की सेहत के लिए भी काफी अच्छा होता है और आत्मविश्वास बढ़ता है। वहीं अधिक मास्टरबेशन करने से नजरें कमजोर होना, इरेक्टाइल डिसफंक्शन, स्पर्म काउंट कम होना, इंफर्टीलिटी, मानसिक समस्याएं और शारीरिक कमजोरी जैसे कई नुकसान भी होते हैं लेकिन इससे पिंपल्स पैदा होने की समस्या पैदा नहीं होती है।
Previous
Next Post »